गंगा जमुनी तहजीब को कायम रखना हर हिन्दुस्तानी की ज़िममेदारी: सैयद मोहम्मद अशरफ किछौछवी

WordForPeace.com
रविवार का दिन नौतनवा के लिए एक यादगार लम्हा बन गया। हुआ यू कि जहां एक तरफ ईसाई समुदाय का सबसे बड़ा पर्व ईस्टर मनाया गया, वहीं दूसरी तरफ गंगा जमुनी तहजीब को कायम रखते हुए नौतनवा स्थित *मस्जिद गरीब नवाज* में जश्ने चार साला कान्फ्रेंस (कार्यक्रम) सफलता पूर्वक संम्पन्न होने पर नौतनवा की शान में कशीदे पढ़े गए।
इस कार्यक्रम में आल इंडिया उलेमा मशाईख बोर्ड व वर्ल्ड सूफी फोरम के सदर *सैयद मोहम्मद अशरफ किछौछवी* के आगमन पर *गुड़डू खान* ने बूके देकर तहेदिल से उनका इस्तकबाल किया और उनसे मुल्क में अमन चैन के लिए दुआ करने की दरख्वास्त की।
इस विश्व प्रसिद्ध सख्शियत का कांफ्रेंस में शिरकत करना कार्यक्रम में चार-चाद लगाने जैसा रहा।
                सैयद इफ्तेखार हुसैन की सरपरस्ती (देख-रेख) में आयोजित इस कॉन्फ्रेंस कार्यक्रम में मशाईख बोर्ड के सदर ने मस्जिद गरीब नवाज में नमाज पढ़ी और मुस्लिम समाज को अपने विचारों से अवगत कराये और *गुड़डू खान* के साथ कब्रिस्तान पहुंचे और पौधारोपण किये।
बोर्ड के सदर ने कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए बताया कि:
 “एक गैर मुल्क चाँद पर बसने की बात कर रहा है और हम मन्दिर और मस्जिद की बात पर लड़ रहे है, इन्सानी जीवन के बारे में कोई कुछ भी नही सोच रहा है जबकि अन्य देश अपने उत्थान और प्रगति की बात कर रहा है इन सब चीजों से ऊपर उठकर हमे अपने मुल्क की प्रगति कैसे हो इस पर विचार करना चाहिए। हमसे- आपसे ही मुल्क में प्यार और मोहब्बत का आगाज होता है और हमीं पर खत्म, अगर मोहब्बत खत्म हो जाएगी तो इंसानियत और मुल्क की गंगा जमुनी तहजीब  खतरे में पड़ती नजर आएगी, इससे हमारी जो सुपर पावर बनने की क्षमता है कहीं इस वजह से खत्म ना हो जाए।”
                   इस चारसाला कांफ्रेंस में मुख्य रूप से अतीक अहमद,राहुल त्रिपाठी, सिराज अहमद,अमित त्रिपाठी, अफजाल अहमद,वहाज अहमद,शाहनवाज खान, मो0 शकील, शमीम अशरफी,इसरार अहमद,मौलाना जुल्फिकार, सूरज खान,मौलाना कमरे आलम,मौलाना फजल, मौलाना गुलाम मोहम्मद,मौलाना सैयद अली,मनौवर अली,उस्मान कुरैशी आदि लोग मौजूद रहे।

Check Also

Why Eid-ul-Fitr Has Been Institutionalized in Islam?

WORD FOR PEACE By Ghulam Rasool Dehlvi, Islam is based on a social system that …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *