हिन्दू व्यापारी ने सौ दंगा पीड़ित मुस्लिम बेटियों का कराया इज्तिमाई निकाह

गुजरात में हुए 2002 के दंगों को करीब 15 साल होने वाले हैं लेकिन दंगों में अपना सब कुछ खोने वाले इन परिवारों की बेटियां आज शादी के लायक हो चुकी हैं. लेकिन गरीबी से मजबूर होकर बाप अपनी बेटियों को घर से विदा भी नहीं कर पा रहें हैं.

ऐसी स्थिति में इन परिवारों की और मदद का हाथ बडाते हुए अहमदाबाद के बिजनेसमैन लालाभाई श्याम्वाला ने इन लड़कियों के निकाह के लिए इज्तिमाई निकाह का आयोजन किया.

इस इज्तिमाई निकाह का आयोजन वड़ोदरा में किया गया जिसमे सौ मुस्लिम लड़कियों का निकाह हुआ.

इस मोके पर बातचीत में लालाभाई ने कहा कि दंगा पीड़ित मुस्लिम परिवारों ने शादी के लियें उनसे मदद मांगी थी जिसके बाद उन्होंने मुस्लिम लडकियों की शादी सामूहिक रूप से करवाने का फैसला किया. उन्होंने आगे कहा उनसे अगर किसी को भी इस प्रकार की मदद की ज़रूरत होगी तो वो मदद के लियें तैयार रहेंगे.

Extracted from awaaztimes

Check Also

Authoritative Islamic Exegesis (Tafseer) on the verses of Jihad mentioned in Surah Tauba—the 9thchapter of the holy Qur’an

By Ghulam Rasool Dehlvi WordForPeace.com There are almost 24 verses in the Qur’an that seem …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *