शाह फैसल का इस्तीफ़ा कश्मीरी नवजवानों का हौसला तोड़ने वाला : AIUMB

12 जनवरी, नई दिल्ली

आल इंडिया उलमा व मशाइख बोर्ड ने इंडियन सिविल सर्विसेज़ टापर शाह फैसल के इस्तीफे को एक बचकाना और जज्बाती क़दम बताते हुए कहा है कि उनके इस क़दम से उन तमाम मुस्लिम नवजवानों के हौसले को गहरा आघात पहुंचा है जो उन्हें अपना आइडियल मान रहे थे और सिविल सर्विसेज़ में जाने की तय्यारी कर रहे थे .

बोर्ड ने एक प्रेस नोट जारी कर कहा है कि उनका यह फैसला कश्मीर के नवजवानों के हक़ में नहीं बल्कि कश्मीरी अवाम को नुक्सान पहुँचाने वाला है क्योंकि उनके इस क़दम से लोगों में एक अविश्वास की भावना पैदा होगी जो उनके लिए घातक है. शाह फैसल ने जब सिविल सर्विसेज़ में टॉप किया तो कश्मीर के तमाम नवजवानों में एक हौसला पैदा हुआ और उन्हें एक बेहतर राह दिखी कि इस तरह वह मुख्य धारा का हिस्सा बनकर तरक्क़ी भी कर सकते हैं और लोगों की मदद भी.

शाह फैसल के इस फैसले से जहाँ उस विचारधारा को बल मिलेगा जो नवजवानों को वरगला कर आतंकवाद की तरफ मोड़ने के काम में लगी हुई है वहीँ उन नवजवानों को नुक्सान होगा जिनके हौसले पस्त हुए हैं.

By: यूनुस मोहानी

DONATE FOR PEACE

About admin

Check Also

URGENT POST-Shah Faisal’s resignation discourages the aspiring Kashmiri youths: AIUMB

January 12, New Delhi The All India Ulama and the Mashaikh Board said that the …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *