HindiMultilingualReligion for PeaceWomen for Peace

अजमेर / दरगाह में सूफी रंग फेस्टिवल में उमड़ी जायरीन की भीड़

सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में चल रहे  अंतर्राष्ट्रीय सूफी रंग फेस्टिवल में जायरीन की भीड़ उमड़ी।

अजमेर / दरगाह में सूफी रंग फेस्टिवल में उमड़ी जायरीन की भीड़आरिफ कुरैशी. अजमेर. सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में चल रहे  अंतर्राष्ट्रीय सूफी रंग फेस्टिवल में जायरीन की भीड़ उमड़ी।

फिल खाना में लगी प्रदर्शनी में इस्लामी तुगरे और पेटिंग के आकर्षक नमूने प्रदर्शित किए गए हैं।  यह समारोह चिश्ती फाउंडेशन दरगाह कमेटी के सहयोग से आयोजित कर रही है।

महफिल खाना में आज इस प्रदर्शनी को देखने के लिए सुबह से ही जायरीन की कतार लगी नजर आई। कलाकारों ने लाइव सुलेख और पेंटिंग्स भी सिखाई। जायरीन ने इसमें खासी दिलचस्पी दिखाई।  इस समारोह में विदेशी कलाकारों के साथ ही देश के विभिन्न हिस्सों के कलाकार भी भाग ले रहे हैं। समारोह की शुरुआत दरगाह के महफिल खाना में कुरान शरीफ की तिलावत से हुई। इस मौके पर  फाउंडेशन के डायरेक्टर मोहम्मद अजीम समेत विभिन्न गणमान्य लोग शरीक हुए। उद्घाटन के बाद ही महफिल खाना में जायरीन की आवक शुरू हो गई। कलाकारों की पेंटिंग्स व तुगरे देखने के लिए लोगों में उत्साह नजर आया।

20 नवंबर तक चलने वाले  समारोह में स्थानीय कलाकारों के साथ ही देश के विभिन्न हिस्सों व विदेशी कलाकार भी भाग ले रहे हैं। चीन, कुवैत, दुबई, तुर्की और ईरान से कलाकार भाग लेने आए हैं। समारोह में बीती रात को खुद्दाम ए ख्वाजा के 6 से 16 साल तक के बच्चों का किरअत कुरान मुकाबला  आयोजित किया गया। इसमें बालिकाओं ने भी भाग लिया। विजेता को प्रमाण पत्र, पदक और ट्राफियां के साथ उत्कृष्टता 2018 की चिश्ती शील्ड प्रदान की गई। फाउंडेशन के अध्यक्ष सैयद सलमान चिश्ती ने बताया कि इस बार यह 11 वां फेस्टिवल है। लोगों का उत्साह बना हुआ है। सूफीवाद को बढ़ावा देने के लिए हर साल यह आयोजन किया जाता है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

CAPTCHA ImageChange Image

Back to top button
Translate »